या ह़य्यू या क़य्यूम

या ह़य्यू ! या क़य्यूम !
या ह़य्यू ! या क़य्यूम !

या रह़ीमु या रह़मान !
या ‘आदिलु या मन्नान !

या ह़ाफ़ीज़ु या सत्तार !
या वाह़िदु या ग़फ़्फ़ार !

या मालिकु या रज़्ज़ाक़ !
तू ख़ालिक़-ए-हर-ख़ल्लाक़

हर राज़ तुझे मा’लूम
हर राज़ तुझे मा’लूम

या ह़य्यू ! या क़य्यूम !
या ह़य्यू ! या क़य्यूम !

बे-मिस्ल है तू ला-रैब
तू पाक है, तू बे-‘ऐब

तू ज़ीस्त का है ‘उनवान
तू साख़िर-ए-हर-‘उदवान

तेरी ज़ात है ‘अज़्ज़-ओ-जल
तू हर मुश्किल का हल

हर सम्त है तेरी धूम
हर सम्त है तेरी धूम

या ह़य्यू ! या क़य्यूम !
या ह़य्यू ! या क़य्यूम !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.