आँखों में मदीने की तस्वीर निराली है

आँखों में मदीने की तस्वीर निराली है       आँखों में मदीने की तस्वीर निराली है ऐ माहे-अरब ! तेरी तन्वीर निराली है दीवाना मदीने का आज़ाद है दोज़ख़ से पैरों में गुलामों के ज़ंजीर निराली है आँखों में मदीने की तस्वीर निराली है ऐ माहे-अरब ! तेरी तन्वीर निराली है सरकार के क़दमों …

आँखों में मदीने की तस्वीर निराली है Read More »