ज़िंदगी दी है तो जीने का क़रीना दे दे

ज़िंदगी दी है तो जीने का क़रीना दे दे ज़िंदगी दी है तो जीने का क़रीना दे दे मेरे मौला ! हमें रहने को मदीना दे दे ज़िंदगी दी है तो जीने का क़रीना दे दे क्या करूँगा मैं गुलाब और चमेली ले कर हम को दो बूँद मुहम्मद का पसीना दे दे ज़िंदगी दी …

ज़िंदगी दी है तो जीने का क़रीना दे दे Read More »