या नबी सलाम अलैका

 

या नबी सलाम अलैक ! या रसूल सलाम अलैक !
या ह़बीब सलाम अलैक ! स़लवातुल्लाह अलैक !

दिल को रास भी तुम्ही हो, ग़म-शनास भी तुम्ही हो
दिल की आस भी तुम्ही हो, दिल के पास भी तुम्ही हो

या नबी सलाम अलैक ! या रसूल सलाम अलैक !
या ह़बीब सलाम अलैक ! स़लवातुल्लाह अलैक !

तेरी जुस्त-जू में जीना, तेरी आरज़ू में मरना
यही मेरी ज़िंदगी है, यही मेरी बंदगी है

या नबी सलाम अलैक ! या रसूल सलाम अलैक !
या ह़बीब सलाम अलैक ! स़लवातुल्लाह अलैक !

रहमतों के ताज वाले ! दो-जहाँ के राज वाले !
अर्श की मेअ’राज वाले ! आसियों की लाज वाले !

या नबी सलाम अलैक ! या रसूल सलाम अलैक !
या ह़बीब सलाम अलैक ! स़लवातुल्लाह अलैक !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.