Aaghaz Ho Raha Hai Karbal Ki Kahani Ka Lyrics

Aaghaz Ho Raha Hai Karbal Ki Kahani Ka Lyrics

हाय अली ! हाय अली !
हाय अली ! हाय अली !

आग़ाज़ हो रहा है करबल की कहानी का
लोगो ये जनाज़ा है इस्लाम के बानी का
बीबी ने कहा बाबा करबल में चले आना
मन्ज़र ममैं दिखाऊंगी अकबर की जवानी का

आग़ाज़ हो रहा है करबल की कहानी का
लोगो ये जनाज़ा है इस्लाम के बानी का

बिखरेगा कर्बला में कासिम के सर का सेहरा
खुशियां समेट लेगा आलम वो वीरानी का
आग़ाज़ हो रहा है करबल की कहानी का
लोगो ये जनाज़ा है इस्लाम के बानी का

कट जाएंगे बाज़ू भी अब्बास बा वफ़ा के
तीरों से होगा छलनी मशकीज़ा वो पानी का
आग़ाज़ हो रहा है करबल की कहानी का
लोगो ये जनाज़ा है इस्लाम के बानी का

ता हश्र मेरे मौला मुश्ताक़ रहूँ तेरा
मिल जाए शरफ़ मुझको बस तेरी ग़ुलामी का
आगाज़ हो रहा है करबल की कहानी का
लोगो ये जनाज़ा है इस्लाम के बानी का

रोते थे फ़रिश्ते भी ता-अर्ज़ो समा लर्ज़ा
ताबूत उठ रहा है इमरान के जानी का
आगाज़ हो रहा है करबल की कहानी का
लोगो ये जनाज़ा है इस्लाम के बानी का

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.