Aaj hi apne rab ko mana lo lyrics

 

Aaj hi apne rab ko mana lo lyrics hindi

Aaj hi apne rab ko mana lo
zindagi ka bharosa nahin hai
Naare dozakh se khud ko bacha lo
zindagi ka bharosa nahin hai

 

आज ही अपने रब को मना लो
ज़िन्दगी का भरोसा नहीं है
नारे दोज़ख़ से खुद को बचा लो
ज़िन्दगी का भरोसा नहीं है

 

Chandni chaar din hai logo
Ye jawani bhi faani hai sun lo
Aakibat bas apni achhi bana lo
zindagi ka bharosa nahin hai

 

चांदनी चार दिन है ऐ लोगो
ये जवानी भी फ़ानी है सुन लो
आकिबत बस अपनी अच्छी बना लो
ज़िन्दगी का भरोसा नहीं है

 

Qabr me jaa ke rona padega
Khaak par tumko sona padega
Mout se pahle khud ko sambhalo
zindagi ka bharosa nahin hai

 

क़ब्र में जा के रोना पढ़ेगा
ख़ाक़ पर तुझको सोना पढ़ेगा
मौत से पहले खुद को सम्भालो
ज़िन्दगी का भरोसा नहीं है

 

Chahiye gar nabi ki shafa’at
Mat karo phir nabi ki ihanat
Unki ulfat dilon me basa lo
zindagi ka bharosa nahin hai

 

चाहिए गर नबी की शफ़ाअ़त
मत करो फिर नबी की इहानत
उनकी उल्फ़त दिलों में बसा लो
ज़िन्दगी का भरोसा नहीं है

 

Naat Khwan: Azmat Raza BhagalPuri

Bakhsh De Lyrics By Owais Raza Qadri New Kalam

Aaj hi apne rab ko mana lo in hindi
Aaj hi apne rab ko mana lo in english

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.