नजमें तफसीरे अशरफी है

मदनीमियां ने लिखी है तफसिरे अशरफी
पढलो किताब कीमती तफसिरे अशरफी

धर में इसे रखो गेतो बरकत ही पाओगे
अल्लाह नबीको प्यारी है तफसिरे अशरफी

इस पर अमल करोंगे तो जन्नत में जाओगे
जन्नत की देखो चावी है तफसिरे अशरफी

फरमाने रब नबीके जो नकशे कदम चले
दोनो जहां में काफी है तफसिरे अशरफी

मजलूम और यतीमों की दौलत के वास्ते
पैगामे हक्क ये लाइ है तफसिरे अशरफी

कयु दर बदर भटकते हो मायूसिया लीये
हर ऐक इलाज लाइ है तफसिरे अशरफी

वलियों ने और सहाबाने इस पर अमल किया
साबित कदम ये रखती है तफसिरे अशरफी

सीने में अपने जिसने उसे हिफज कर लिया
मिट्टी को दूर रखती हय तफसिरे अशरफी

जो सच्चे दिलसे बावुजू इस को अगर पढे
उसके गुनाह को धोती है तफसिरे अशरफी

इस्से अगर हटोगे तो मंजिल ना पाओगें
केसी ये बात सच्ची है तफसिरे अशरफी

रबका बड़ा ही रहेमो करम , चिस्ती,हम पे है
है देखना ही नेकी है तफसिरे अशरफी

 

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.