Dekh Aya Hai Kahan Ahista Chal Naat Lyrics

 

देख आया है कहां आहिस्ता चल
ज़ाईरे कूए जिना आहिस्ता चल
Dekh aya hai kahan ahista chal
Zai’rey kooye jina ahista chal

 

जैसे जी चाहे जहां में घूम फिर
ये मदीना है यहां आहिस्ता चल
Jaise ji chahe jahan me ghoom phir
Ye madina hai yahan ahista chal

 

हाज़िरी में हैं मलक सत्तर हज़ार
कुदसियों के दरमियाँ आहिस्ता चल
Haziri me hain malak sattar hazar
Kudsiyon ke darmiya(n) ahista chal

 

दर पे पहूंचा हूं बड़ी मुद्दत के बाद
ऐ मेरी उम्रे रवां आहिस्ता चल
Dar pe pahuncha hun badi muddat ke baad
Ae meri umre rawa(n) ahista chal

 

बारगाहे नाज़ में आहिस्ता बोल
होगा सब कुछ राहे-गां आहिस्ता चल
Bargah e naaz me ahista bol
Hoga sab kuchh raahe-ga(n) ahista chal

 

देख लूं जी भर के शहरे मुस्त़फ़ा
मेरे मीरे कारवां आहिस्ता चल
Dekh loon ji bhar ke shahar e mustafa
Mere meer e karwa(n) ahista chal

 

जालियों के सामने जल्दी ना कर
वो हैं नाज़िश मेहरवां आहिस्ता चल
Jaliyon ke samne jaldi na kar
Wo hain nazish mehrwan ahista chal

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.