Manzar Fiza e Dahar Me Sara Ali Ka Hai Lyrics

 

Manzar Fiza e Dahar Me Sara Ali Ka Hai Lyrics
मन्ज़र फ़िज़ा-ए-दहर में मौला का है मनक़बत लिरिक्स

Written by: Faisal Abbas

 

Ya ali ….
या अली ….

 

Manzar Fiza e Dahar Me Sara Ali Ka Hai
Jis Simt Dekhta Hun Nazara Ali Ka Hai
मन्ज़र फ़िज़ा-ए-दहर में मौला का है
जिस सिम्त देखता हूँ नज़ारा अली का है

 

Duniya Me Aur Koun Hai Apna Bajuz Ali
Ham Bekason Ko Hai To Sahara Ali Ka Hai
दुनिया में और कौन है अपना बजुज़ अली
हम बेकसों को है तो सहारा अली का है

 

Tum Dakhl De Rahe Ho Aqidat Ke Baab Me
Dekho Ye Muamla Hamara Ali Ka Hai
तुम दख्ल दे रहे हो अक़ीदत के बाब में
देखो ये मुआमला हमारा अली का है

 

Mola, Mola, Mola, Mola, Mola
Mola Ali Mola ..
मौला, मौला, मौला, मौला, मौला
मौला अली मौला ..

 

Mola, Mola, Mola, Mola, Mola
Mola Ali Mola ..
मौला, मौला, मौला, मौला, मौला
मौला अली मौला ..

 

Mola, Mola, Mola, Mola, Mola
Mola Ali Mola ..
मौला, मौला, मौला, मौला, मौला
मौला अली मौला ..

 

Mola, Mola, Mola, Mola, Mola
Mola Ali Mola ..
मौला, मौला, मौला, मौला, मौला
मौला अली मौला ..

 

Ya Ali …..
या अली …..

 

 

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: