Sayyeda Sayyeda Manqabat Fatima As Lyrics

 

 

कैसे होगा बयां आप का मर्तबा
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा
फ़ातिमा तइय्यबा ताहिरा

 

शान जिसकी ख़ुदा ने बढ़ाई बहुत
ज़ात जिसकी नबी ने सराही बहुत
जिस के क़दमों ने बरकत लुटाई बहुत
बात जिसकी ज़माने में सबसे जुदा
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा

 

जिसकी सूरत अज़ल में बनाई
गई मुस्तफ़ा की तरहं ही सजाई गई
सारी दुनिया में बेहतर जो पाई गई
रब का क़ुरआन देता है जिसका पता
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा

 

कर्बला जिसके कुनबे का दस्तूर है
जिसका हर बच्चा नूरूल अला नूर है
नूर जिसके घराने से मशहूर है
नूर ही नूर जिसको रज़ा ने कहा
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा

 

जो सरापा का सख़ावत की तफ़्सीर
शान में जिसकी आयात ए ततहीर है
हुबहू जो मोहम्मद की तस्वीर है
जिसके बेटों से है दीन ए अहमद चला
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा

 

जो इस ज़माने में सबसे बड़ी मां रही
जिनके घर की तरहं कोई घर ही नहीं
जिनके बेटों में हैं मेरे ख्वाजा मोईन
उनके के ही लाडले तो हैं ग़ौसुल वरा
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा

 

तेरे क़दमों से यूं मेरा जाना हुआ
जैसे ज़िन्दा जनाज़ा रवाना हुआ
सारी दुनिया से अब मैं बेगाना हुआ
अपने दर पे सबाहत को फिर से बुला
सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा सय्यिदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.