Barish-e-Noor Ke Meezab Owais-e-Qarni Lyrics

 

बारिश ए नूर के मीज़ाब उवैस-ए-क़र्नी

इ़श्क़ के गौहरे नायाब उवैस-ए-क़र्नी

Barish-e-noor ke meezab owais-e-qarni

Ishq ke gauhare naayab owais-e-qarni

 

उनको आक़ा ने किया तूरे मोहब्बत का कलीम

जल्वा ए मेहरे जहाँ ताब उवैस-ए-क़र्नी

Unko aaqa ne kiya toore mohabbat ka kaleem

Jalwa-e-mehre jahan taab owais-e-qarni

 

जो तजल्ली मेरे सरकार ने बख़्शी उनको

बन गये इ़श्क़ के महताब उवैस-ए-क़र्नी

Jo tajalli mere sarkar ne bakhshi unko

Ban gaye ishq ke mahtab owais-e-qarni

 

ताइरे इ़श्क़ बुलन्दी पे मुसलसल उनका

ह़ुब्बे नबवी के हैं सीमाब उवैस-ए-क़र्नी

Taa’ire ishq bulandi pe musalsal unka

Hubbe nabwi ke hain seemaab owais-e-qarni

 

उनकी फ़ितरत में मोहब्बत के सितारे ऐसे

चर्ख़ भी करता है आदाब उवैस-ए-क़र्नी

Unki fitrat me mohabbat ke sitare aise

Charkh bhi karta hai aadaab owais-e-qarni

 

सारे एज़ाज़ मिले ख़िदमत ए मां से इनको

हो गए नाज़िशे असहाब उवैस-ए-क़र्नी

Sare ejaaz mile khidmat e maa se inko

Ho gaye naazishe as’haab owais-e-qarni

 

बख्शिश ए उम्मते आसी का मिला है मुज़़दा

किशवरे ख़ुल्द के इक बाब उवैस-ए-क़र्नी

Bakhshish-e-ummate aasi ka mila hai muzda

Kishware khuld ke ik baab owais-e-qarni

 

शहे कौनैन को मिलती थी उधर से ठंण्डक

अब रहेंगे यूं ही शादाब उवैस-ए-क़र्नी

Shahe kounain ko milti thi udhar se thandak

Ab rahange yun hi shadab owais-e-qarni

 

मर्तबा राहे विलायत में है अफ़ज़ल ऐसा

सर झुकाते हैं सब अक़ताब उवैस-ए-क़र्नी

Martaba raahe wilayat me hai afzal aisa

Sar jhukate hain sab aqtaab owais-e-qarni

 

उस मुलाकात के मन्ज़र पे फ़िदा माह ओ नुजूम

जब मिले ह़ैदर ओ ख़त्ताब उवैस-ए-क़र्नी

Us mulakat ke manzar pe fida maah o nujoom

Jab mile haider o khattab owais-e-qarni

 

किस तरह मैं करूँ ममदूह ए नबी की तारीफ़

मुझमें इतनी है कहाँ ताब, उवैस-ए-क़र्नी

Kis tarha main karun mumdooh e nabi ki taarif

Mujh me itni hai kahan taab, owais-e-qarni

 

उनकी निस्बत से संवर जायें फ़रीदी के हुरुफ़

ठीक हों फ़िक्र के एराब उवैस-ए-क़र्नी

Unki nisbat se sanwar jayen fareedi ke huruf

Theek hon fikr ke airaab owais-e-qarni

Barish-e-Noor Ke Meezab Owais-e-Qarni Lyrics
Barish-e-Ishq Ka Meezab Manqabat lyrics

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.