Dayare Paak Ka Manzar Nabi Nabi Bole lyrics

Naat Khwan: Sufiyan Pratapgarhi

दयारे पाक का मंज़र नबी नबी बोले
नबी के शहर का घर घर नबी नबी बोले
Dayare Paak Ka Manzar Nabi Nabi Bole
Nabi Ke Shahar Ka Ghar Ghar Nabi Nabi Bole

 

सना रसूल की हम ही फ़क़त नहीं करते
नबी की शान में कंकर नबी नबी बोले
Sana Rasool Ki Ham Hee Faqat Nahi Karte
Nabi Ki Shan Me Kankar Nabi Nabi Bole

 

वफ़ा बिलाल की है बेमिसाल दुनिया में
हज़ारों ज़ुल्म जो सहकर नबी नबी बोले
Wafa Bilal Ki Hai Bemisal Duniya Me
Hazaron Zulm Jo Sah-kar Nabi Nabi Bole

 

फ़क़त यही नहीं कि अपनी जान दे दूंगा
नबी के वास्ते सब खानदान दे दूंगा
Faqat Yahi Nahi Ki Apni Jaan De Dunga
Nabi Ke Waste Sab KhanDan De Dunga

 

काफिरों ने कहा के होंठ तेरे सिल दूंगा
बिलाल बोले कि मैं फिर भी अज़ान दे दूंगा
Kaafiron Ne Kaha Ke Tere Honth Sil Dunga
Bilal Bole Ke Main Fir Bhi Azan De Dunga

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.