Dum Mast Kalandar Umar Umar Lyrics

दम मस्त कलन्दर उमर उमर

जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा
उमर के बाघी पे ना होंगे राज़ी
वो चाहें नबी हों या फिर मौला अली
जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा

 

सर की दस्तार हैं उमर उमर
मेरी सारी बहार हैं उमर उमर

मेरा चैन क़रार हैं उमर उमर
इज़्जत हैं बक़ार हैं उमर उमर

मेरे दिल तार हैं उमर उमर
मोमिन का प्यार है उमर उमर

उमर उमर
दम मस्त कलन्दर उमर उमर ×4

मेरे दिल के अंदर उमर उमर

जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा

 

मासूम नबी ने यूं हाथ उठाए
उमर के रुतबे यूं समझाए

अब है ज़रूरी ये मेरे अल्लाह
लश्कर में अब इक उमर भी आए

फिर रब भिजवा दे उमर उमर
काबा खुलबा दे उमर उमर

आली किरदार है उमर उमर
मोमिन का प्यार है उमर उमर

उमर उमर
दम मस्त कलन्दर उमर उमर ×4

मेरे दिल के अंदर उमर उमर

जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा

 

उमर तो सच्चा ग़ुलामे नबी है
मोहर-ए-हुसैन दलील बड़ी है

मौला हसन पे बेटे को न तरजीह
देकर सुलझा दी ये कड़ी है

हर चाहत पर है उमर उमर
सारी आल का दिलबर उमर उमर

मौला अली का यार है उमर उमर
मोमिन का प्यार है उमर उमर

उमर उमर
दम मस्त कलन्दर उमर उमर ×4

मेरे दिल के अंदर उमर उमर

जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा

 

मोमिन की है ये ख़ास निशानी
उमर को बोले दिल का जानी

जो फ़ितरत में शैतां होगा
सिर्फ उमर की उस पे तूफ़ानी

बातिल का सफाया उमर उमर
मोमिन को भाया उमर उमर

सीनों की ढाल है उमर उमर
मोमिन का प्यार है उमर उमर

उमर उमर
दम मस्त कलन्दर उमर उमर ×4

मेरे दिल के अंदर उमर उमर
जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा

 

नामे उमर तू सीने पे लिखाकर
अमल ये सोने से पहले किया कर

पास न आये शैतान कभी भी
हैदर चैन की नींद लिया कर

बातिल पे छाए उमर उमर
काफ़िर को रुलाए उमर उमर

शैतां पे वार है उमर उमर
मोमिन का प्यार है उमर उमर

उमर उमर
दम मस्त कलन्दर उमर उमर ×4

मेरे दिल के अंदर उमर उमर

जा रे जा उमर के दुश्मन जा रे, जा रे, जा रे .. जा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.