Khudaai Me Khuda Ke Jab Pyaami Ka Pyaam Aaya Naat Lyrics

 

 

Shayar: मुहिद्दिसे आज़में हिन्द | Naat e Paak

 

खुदाई में खुदा के जब प्यामी का प्याम आया

तो झूमा आज़म वज्द में बैतुल ह़राम आया

Khudaai Me Khuda Ke Jab Pyaami Ka Pyaam Aaya

To Jhooma Aazam Wajd Me Baitul Haram Aaya

 

 

वही फ़स्ले दुरुद आई वही दौरे सलाम आया

मुबारक ईदे मीलादुन्नबी का फिर प्याम आया

Wahi Fasle Durood Aai Wahi Doure Salam Aaya

Mubarak Eeid-E-Miladunnabi Ka Fir Pyaam Aaya

 

 

किसी ने मुझसे जब पूछा कि तेरा कौन हामी है

तो बस बेसाख़्ता मेरी ज़बां पर तेरा नाम आया

Kisi Ne Mujhse Jab Poochcha Ki Tera Koun Haami Hai

To Bas Besaakhta Meri Zaba(N) Par Tera Naam Aaya

 

 

मैं सदक़े इस्मे अक़दस के मैं क़ुरबां नामे नामी पर

तेरा हमनाम होना ह़श्र के मेरे काम आया

Mein Sadqe Isme Aqdas Ke Mein Kurba(N) Naame Naami Par

Tera Hamnaam Hona Hashr Ke Mere Kaam Aaya

 

 

उसी ने कर दिया सय्यद को सय्यद जब कहीं पहुंचा

तो उठ्ठा शोर वह देखो मुह़म्मद का गुलाम आया

Usi Ne Kar Diya Sayyad Ko Sayyad Jab Kahi Pahucha

To Uththa Shor Woh Dekho Muhammad Ka Gulam Aaya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.