Saqqa e Sakina Abbas Abbas Lyrics – Mesum Abbas

Saqqa e Sakina Abbas Abbas Lyrics – Mesum Abbas

 

अब्बास अब्बास …

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

दो मुझको सहारा
अब्बास अब्बास …

 

ठहरी हुई नज़रें हैं मेरी तेरे अलम पर
शक मुझ को नहीं कोई तेरे लुत्फ़ ओ करम पर
तू बाबे हवाइज है नज़र रखता है हम पर
मुश्किल से बचाना
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

बिन हाथों के तुम झोलियां भर देते हो मौला
एहसान करो मुझ पर मैं बंदा हूं तुम्हारा
मुफ़लिस हूं बहुत कर्बोबला आ नहीं सकता
क्या तुम से छुपाना
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

सब रंजो अलम मैंने ज़माने से छुपाए
आया हूं तेरे सामने हाथों को उठाए
मुंह मोड़ गए मुझसे सभी अपने पराए
दिल ज़ख़्मी है मेरा
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

दुनिया की मुसीबत ने मुझे घेर लिया है
आक़ा तेरा ख़ादिम ये परेशान हुआ है
तुम मुझको बचा लोगे मुझे ये भी पता है
बस देर ना करना
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

अब्बास हबीब इब्ने मज़ाहिर से ये कहना
ज़व्वारों की फेहरिस्त में अब नाम हो मेरा
सामान ए सफ़र भी मेरा तैय्यार है मौला
तुम मुझ को बुलाना
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

ज़हरा की क़सम है मेरी उलझन को मिटा दो
इक फूल अलम से मेरे दामन में गिरा दो
हिम्मत मुझे मिल जाए इशारे से बता दो
तुम साथ हो मौला
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

तू भाई है शब्बीर का हैदर का है बेटा
दुनिया में नहीं इतना सख़ी कोई घराना
तेरी ही सख़ावत का ज़माने में है चर्चा
तू दर है अता का
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

सर पर नहीं जिन लोगों के मां-बाप का साया
उन सबके निगेहबान तुम ही हो मेरे मौला
मादर का ही आंचल है ये परचम का फरेरा
करते रहो साया
अब्बास अब्बास …

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

देते हैं सकीना की क़सम इसलिए मौला
है मीसम ओ अज़लान का मौला ये अक़ीदा
तुम रद्द नहीं कर सकते कभी भी ये वसीला
है पूरा भरोसा
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

सक़्क़ा ए सकीना
अब्बास अब्बास …

 

Saqqa e Sakina Abbas Abbas Lyrics Hindi Mesum Abbas

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.