Chanay Lagi Sham e Ghariban lyrics

Chanay Lagi Sham e Ghariban lyrics     छाने लगी शाम-ए-ग़रीबां, हाय क़यामत का है समां हाय क़यामत का है समां हाय क़यामत का है समां हाय क़यामत का है समां छाने लगी शामे ग़रीबां हाय क़यामत का है समां खैमा-ए-शादाद से उठता धुआं खैमा-ए-शादाद से उठता धुआं हाय क़यामत का है समां छाने लगी …

Chanay Lagi Sham e Ghariban lyrics Read More »