Mujh Par Karam Hussain Ka Hai Lyrics Muazzam Ali Mirza

Mujh Par Karam Hussain Ka Hai Lyrics Muazzam Ali Mirza

 

Main Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai

Ata Kiya Hua Sara Bharam Hussain Ka Hai

Maiñ Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

अता किया हुआ सारा भरम हुसैन का है

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

 

 

Main Motbar Hun Jahañ meiñ Hussain Ke Sadqe

Qasam Khuda Ki Mere Dam Me Dam Hussain Ka Hai.

Maiñ Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai

मैं मोतबर हूं जहां में हुसैन के सदक़े

क़सम ख़ुदा की मेरे दम में दम हुसैन का है

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

 

Yazidiyat Ko Hoye Sarniguñ Zamana Hua

Buland Aaj Bhi Lekin Alam Hussain Ka Hai.

Main Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai

यज़ीदियत को हुए सरनगूं ज़माना हुआ

बुलन्द आज भी लेकिन अलम हुसैन का है

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

 

Falak Ki Aañkh Se Girte Haiñ Aaj Bhi Aansu

Falak Ke Seene Me Aaj Bhi Gham Hussain Ka Hai.

Maiñ Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai

फ़लक की आंख से गिरते हैं आज भी आंसू

फ़लक के सीने में आज भी ग़म हुसैन का है

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

 

Khuda Ne Di Hai Unheñ Jannatoñ Ki Sardari

Khuda Bhi Dekh Asad Hum-Qadam Hussain Ka Hai.

Maiñ Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai

ख़ुदा ने दी है उन्हें जन्नतों की सरदारी

ख़ुदा भी देख असद हम-क़दम हुसैन का है

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

 

Ata Kiya Hua Sara Bharam Hussain Ka Hai

Main Khush Naseeb Hun Mujh Pe Karam Hussain Ka Hai.

अता किया हुआ सारा भरम हुसैन का है

मैं खुशनसीब हूं मुझ पर करम हुसैन का है

 

Recited By: Muazzam Ali Mirza

manqabat 3 shaban lyrics 2022 by muazzam ali mirza

Mujh Par Karam Hussain Ka Hai lyrics Hindi

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d