Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka Lyrics

 

Sare La Makan Se Talab Hui

Sooye Muntaha Wo Chale Nabi

Koi Had Hai Unke Urooj Ki

Blaghal Ula Be Kamale Hi

 

Meraj E Mustafa – Mustafa, Mustafa

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Aasam Koun-o-Maka.n Me Barish E Anwar Hai

Noori Jalwon Se Muzaiyan Raasta Meraj Ka

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Kaise Ho Sakta Hai Saani Aapka Ya Mustafa

Han Ke Tu hai ! Deedar Ka Tohfa Mila Meraj Me

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Ruk Gaya Tha Ek Lamhe Me Nizam E Qayant

Jis Ghadi – Jis Shab Hua Tha Silsila Meraj Ka

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Saari Khalqat Ko Dikhana Tha Nabi Ka Martaba

Pahle Walon Ne Dekha Ye Falsafa Meraj Ka

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Saarey Nabiyon Me Faqat Hai Ek Hasti Aapki

Haq Ta’aala Se Jise Muzda Mila Meraj Ka

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Qadri Irfan Har Su Dhoom Hai Meraj Ki

Mahfilon Me Har Jagah Hai Tazkira Meraj Ka

 

Hai Azim-Ush-Shan Wallah Mojza Meraj Ka

Munfarid Sabse Nirala Mojza Meraj Ka

 

Naat Khwan: Muhammad Hasna Raza, Ghulam Mustafa, Ayan Attari & Ali Raza

Mojza Meraj Ka Lyrics In Hindi
सरे ला मकां से तलब हुई

सूए मुन्त़हा वो चले नबी

कोई हद है उनके उरुज की

बलाग़ल उला-बे-कमाले ही

 

मेराज ए मुस्त़फ़ा, मुस्त़फ़ा मुस्त़फ़ा

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

 

आस्मां कौनो मकां में बारिश ए अनवार है

नूरी जल्वों से मुज़ईय्यन रास्ता मेराज का

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

 

कैसे हो सकता है सानी आपका या मुस्त़फ़ा

हां के तू है! दीदार का तोहफ़ा मिला मेराज का

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

 

रुक गया था एक लम्हे में निज़ाम ए क़ायनात

जिस घड़ी जिस शब हुआ था सिलसिला मेराज का

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

 

सारी ख़लक़त को दिखाना था नबी का मर्तबा

पहले वालों ने देखा ये फलसफ़ा मेराज का

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

 

सारे नबियों में फ़क़त है एक हस्ती आपकी

ह़क़ ता’आला से जिसे मुज़दा मिला मेराज का

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

 

क़ादरी इरफ़ान हर सू धूम है मेराज की

महफ़िलों में हर जगह है तज़किरा मेराज का

 

है अज़ीमुश्शान वल्लाह मोजज़ा मेराज का

मुनफ़रिद सबसे निराला मोजज़ा मेराज का

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.