Ishq ma ham panchhi kah-layenge lyrics

 

Ishq ma ham panchhi kah-layenge

 

इ़श्क़ मा हम पंछी कहलायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Ishq ma ham panchhi kah-layenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

तैबा नगर का हम हैं कबूतर
मीनार ओ गुम्बद हमारा तो घर
रौज़े का फेरा लगायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Taiba nagar ke ham hain kabootar
Meenar o gumbad hamara to hai ghar
Rouze ka fera lagaeinge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

इ़श्क़ मा हम पंछी कहलायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Ishq ma ham panchhi kah layenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

खुशियों की चाह है, कोई ग़म नहीं है
तैबा नगर ख़ुल्द से कम नहीं है
ज़म-ज़म से हर घड़ी नहायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Khushiyon ki chaah hai, koi gham nahin hai
Taiba nagar khuld se kam nahin hai
Zam-zam se har ghadi nahayenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

इ़श्क़ मा हम पंछी कहलायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Ishq ma ham panchhi kah layenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

आक़ा के गांव में खजूरों की छाओं में
दिलकश हवाओं में मोअत्तर फ़ज़ाओं में
छोटा सा इक घर बनायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Aaqa ke gaon me khajooron ki chhao me
Dilkash hawaon me moattar fazaon me
Chhota sa ik ghar banayenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

इ़श्क़ मा हम पंछी कहलायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Ishq ma ham panchhi kah layenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

परवाज़ को बाल पर दे दे या रब
नात कहने का हुनर दे दे या रब
आक़ा को जाकर सुनायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Parvaz ko baal par de de ya rab
Naat kehne ka hunar de de ya rab
Aaqa ko jakar sunayenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

 

इ़श्क़ मा हम पंछी कहलायेंगे
नबी नबी कह के मदीना उड़ जायेंगे

Ishq ma ham panchhi kah layenge
Nabi nabi kah ke madina ur jayenge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.